पटना में आयोजित होने वाले इप्टा के प्लैटिनम जुबली समारोह में शामिल होंगे बॉलीवुड समेत देश के कई नामी-गिरामी कलाकार

0
17
/iptas-platinum-jubilee-festival-patna FROM -27-october/

बिहार की राजधानी पटना में भारतीय जननाट्य संघ (इप्टा) की ओर से राष्ट्रीय प्लैटिनम जुबली समारोह का आयोजन 27 अक्तूबर से किया जा रहा है. दरअसल इप्टा देश के विभिन्न राज्यों में कार्यरत है । वर्ष 1943 को शुरू हुए इप्टा का 75वां साल पूरा होने पर यह संगठन विभिन्न राज्यों की अपनी इकाईयो में कार्यक्रम आयोजित कर रही है ।

पटना में भी प्लैटिनम जुबली समारोह आयोजित हो रही है इस में बॉलीवुड की वरिष्ठ कलाकार शबाना आजमी समेत देश के कई नामी-गिरामी कलाकार भाग लेंगे |समारोह के दौरान देश के विभिन्न राज्यों में कार्यरत इप्टा की ईकाइयों द्वारा  उत्कृष्ट प्रस्तुति दी जायेगी. इनमें जन संगीत महोत्सव, लोक संगीत महोत्सव, शास्त्रीय संगीत महोत्सव, नाट्य महोत्सव, संगोष्ठी, रंग संवाद-कार्यशालाएं और जन सांस्कृतिक मार्च का आयोजन शहर के विभिन्न स्थानों पर किये जायेंगे.

प्लैटिनक जुबली समारोह की जानकारी देते हुए इप्टा पटना के महासचिव तनवीर अख्तर ने बताया कि शुक्रवार 26 अक्तूबर को कालिदास रंगालय में समारोह का कर्टेन रेजर कार्यक्रम होगा. साथ ही भीष्म साहनी द्वारा लिखित एवं तनवीर अख्तर निर्देशित नाटक ‘कबीरा खड़ा बाजार में’ का मंचन भी किया जायेगा. वहीं, 27 अक्टूबर से 31 अक्तूबर तक शहर के विभिन्न स्थानों पर देश के विभिन्न राज्यों से आये इप्टा के साथियों द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जायेगी.

शबाना आजमी करेंगी पुस्तक का विमोचन
इप्टा के प्लैटिनम जुबली समारोह के दौरान फिल्म अभिनेत्री शबाना आजमी द्वारा लिखित पुस्तक ‘नमक’ का विमोचन किया जायेगा. कार्यक्रम के दौरान पद्मश्री शोभना नारायण एवं उनकी टीम ‘मोहन व रंभा’ नृत्य नाटिका की प्रस्तुति देंगे. साथ ही संभाजी भगत एवं साथी की ओर से संस्कृत नृत्य नाटिका प्रस्तुति की जायेगी.

राजधानी पटना के कई सभागार में होगा कार्यक्रम का आयोजन
इप्टा के प्लैटिनम जुबली समारोह फ्रेजर रोड स्थित भारतीय नृत्य कला मंदिर, राजेंद्र नगर स्थित प्रेमचंद रंगशाला, पटना सिटी स्थित मुक्ताकाश मंच, गांधी मैदान स्थित भिखारी ठाकुर रंगभूमि व कालीदास रंगालय में कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा. इस दौरान 28 अक्टूबर को राष्ट्रीय जन सांस्कृतिक फोरम कन्वेंशन कार्यक्रम में हिंदी साहित्य जगत की बड़ी हस्ती असगर वजाहत की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन होगा. गांधी मैदान में भिखारी ठाकुर रंगभूमि में चंद्रशेखर और सफदर हाशमी की स्मृति में नाटक ‘मैं बिहार हूं’, ‘गढ्ढा’, ‘पोल खुला पोर-पोर’ की प्रस्तुति होगी. प्रेमचंद रंगशाला में ‘जनगीत’, ‘असली शस्त्र’, ‘विस्फोट’, ‘टॉर्च बेचने वाला’ का नाट्य मंचन प्रेक्षागृह में होगा. रंगशाला के बाहरी परिसर में रंग चबूतरा कार्यक्रम के तहत मणिपुर, शाहजहांपुर आदि जगहों से आये कलाकारों द्वारा नाट्य प्रस्तुति होगी. समारोह का उद्घाटन अभिनेत्री संजना कपूर द्वारा किया जायेगा. पटना सिटी के पन्ना लाल मुक्ताकाश मंच पर जनगीत, जादू प्रदर्शन, नाटक, लोक नृत्य, लोक गीत, नृत्य नाटिका की प्रस्तुति दी जायेगी.

परिचर्चा, जनगीत, संगोष्ठी एवं नृत्य नाटिका से सराबोर रहेगी राजधानी
29 अक्टूबर को भारतीय नृत्य कला मंदिर परिसर में ‘भारत की संस्कृति और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद’ विषय पर परिचर्चा होगी. परिचर्चा की अध्यक्षता एमएम सथ्यू, रणवीर सिंह द्वारा करेंगे. इसमें असगर वजाहत, राजेश जोशी, गौहर रजा, अली जावेद आदि अपने विचार रखेंगे. भिखारी ठाकुर रंगभूमि गांधी मैदान में भागलपुर इप्टा की ओर से ‘सफदर के बोल’, कर्नाटक इप्टा की ओर से ‘जय श्रीराम’, तमिलनाडू इप्टा की ओर से ‘पर्यावरण’ एवं बिहार छपरा इप्टा की ओर से ‘कुंभकर्ण’ की प्रस्तुति दी जायेगी.
जन सांस्कृतिक आंदोलन और महिलाएं’ विषय पर अतिथि रखेंगे विचार
30 अक्टूबर दिन मंगलवार को भारतीय नृत्य कला मंदिर परिसर में ‘जन सांस्कृतिक आंदोलन और महिलाएं’ विषय पर नादिर बब्बर, कामायनी, नूर जहीर एवं शीतल साठे अपने विचार रखेंगे. साथ ही बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के सभागार में जनगीत की प्रस्तुति दी जायेगी. वहीं, भिखारी ठाकुर रंगभूमि गांधी मैदान में नाटकों और जनगीत की प्रस्तुति होगी.

हम होंगे कामयाब’ की शपथ से होगा समापन
इप्टा समारोह के आखिरी दिन 31 अक्टूबर को भारतीय नृत्य कला मंदिर परिसर में ‘रंगमंच, सिनेमा और समाज’ विषय पर अतिथित अपने विचार रखेंगे. साथ ही गांधी मैदान स्थित भिखारी ठाकुर रंगभूमि में कलाकारों द्वारा नाटकों की प्रस्तुति दी जायेगी. वहीं, भारतीय नृत्य कला मंदिर के मुक्ताकाश मंच पर गोरख पांडेय की गीत, सहरसा इप्टा की ओर से शास्त्रीय नृत्य, केरल इप्टा की ओर से जनगीत, पंजाब इप्टा की ओर से लोक गीत, भागलपुर इप्टा की ओर से लोक नृत्य गोदना और डोमकच की प्रस्तुति दिये जाने के बाद ‘हम होंगे कामयाब…’ गीत के साथ समारोह का समापन किया जायेगा.

क्या आपके पास है बिहार से जुड़ा कोई दिलचस्प किस्सा तो साझा करने के लिए कृपया                          atulyabihar@gmail.com पर हमें लिखें, या फेसबुक और ट्विटर या  इंस्टाग्राम  पर हमसे जुड़ें।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here